Software क्या है ? Software के प्रकार – What Is Software in Hindi ?

दोस्तों Software क्या है ? (What Is Software ?) ये आपको बताने  की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आज के समय में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जिसके पास Smartphone न हो, और वह software के बारे में जानता न हो ! क्योंकि मोबाइल और कंप्यूटर सभी की जरुरत बन गई है जिनके बिना हमारे कोई भी काम नहीं होते है ! लेकिन कुछ सालो पहले हमे भी hardware और software के बारे में पता नहीं था जब हम छोटे थे ! लेकिन कंप्यूटर के आने के बाद हमारी जिन्दगी बदल गई और हमारे सभी काम computer और mobile पर आधारित हो गए है ! जिससे हर व्यक्ति आलसी होता जा रहा है ! परन्तु यह भी कहना गलत नहीं होगा कि कंप्यूटर और मोबाइल के आने के बाद हमारी जिन्दगी बहुत ही आसन हो गई है !

लेकिन दोस्तों Software क्या है, यह आप सब लोग आम तोर पर जानते है , क्योंकि हम सभी इनका इस्तेमाल कर रहे है ! लेकिन आज इस पोस्ट में आपको software के बारे में पूरी जानकारी देने वाला हूँ कि software क्या है ? software  कैसे काम करता है ?  इसके कितने प्रकार है ? और इन्हें कैसे बनाया जाता है ?  Hardware क्या है ? ये हम पिछली पोस्ट में आपको बता चुके है अगर आपने वह पोस्ट नहीं पढ़ी है तो लिंक पर क्लिक करके Hardware क्या है ? इसकी पूरी जानकारी आपको मिल जाएगी ! तो चलिए दोस्तों software क्या है इसके बारे में समझते है !

What is software in hindi

 

Software क्या है ? (What Is Software In Hindi) ?

सॉफ्टवेयर, बहुत सारे प्रोग्राम्स का वह समूह है, जो कम्प्यूटर को किसी कार्य को पूर्ण करने का निर्देश देता हैं, यह यूजर को कम्प्यूटर पर काम करने की क्षमता प्रदान करता हैं ! सॉफ्टवेयर के बिना कम्प्यूटर हार्डवेयर का एक निर्जीव वस्तु है !

Software को हम अपनी आँखों से देख नहीं सकते और न ही हाथों से छू सकते है ! क्योंकि इसका कोई भौतिक रूप नहीं है ! केवल इसका आभास किया जा सकता है और इसे समझा जा सकता है ! यदि आपके कंप्यूटर में software इनस्टॉल नहीं किये जाये, तो वह एक metal से बना एक बॉक्स  ही रह जायेगा ! जिसका आप कोई भी उपयोग नहीं कर पाएंगे ! क्योंकि हम अपने Computer में जितने भी Task करते हैं ! वह सभी इस software के माध्यम से ही संपन होते हैं !

ये कुछ software के उदाहरण है Software  Google Chrome, Photoshop, MS-WORD, VLC Player, UC Browser इत्यादि ! जो आपको Computer पर अलग-अलग कार्य करने के योग्य बनाते है

Software के प्रकार 

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर तीन प्रकार के होते हैं –  System software, Application software और Utility software

System software 

System Software वह Software है जो Hardware पर नियत्रंण करता है और Hardware एवं Software के बीच क्रिया करने देता है आसान भाषा में कह सकते है वह software जो hardware को चलाने का कार्य करता है से system software कहते है  System Software के कई प्रकार है –

1. Operating System – Operating System एक ऐसा कम्प्यूटर program होता है जो दूसरे computer program को चलाने में मदद करता है, Operating System यूजर तथा computer के बीच मध्यस्थ का कार्य करता है ! यह हमारे द्वारा दिए गए Task को कम्प्यूटर को समझाता है !

Operating System के नाम जिन्हें आप जरुर जानते होंगे –

  • Windows OS
  • Mac OS
  • Linux
  • UBUNTU
  • Android

2. Device Drivers

Driver एक विशेष program होता है जो Input और Output component को कम्प्यूटर से जोड़ता है ताकि ये computer से संचार कर सके !  जैसे – Audio Drivers, Graphic Drivers, Motherboard Drivers आदि

Utility software 

Utility Software, एक ऐसा computer system program होता हैं जो कम्प्युटर को Analyzation, Configuration, Optimization तथा Maintenance करने में मदद करता हैं ! ये system software अधिकतर ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ आते है और कुछ अलग से भी Install होते हैं. जैसे; Disk Defragmenter, Antivirus, Screen Saver आदि Utility software है ! कुछ प्रोग्राम्स कम्प्युटर की अवांछनीय सॉफ्टवेयर  से रक्षा करते हैं तथा कुछ  कंप्यूटर को Repair कर Computer कि कार्यक्षमता को बढ़ाते है तथा उसे और कार्यशील बनाने में मदद करते हैं !

Utility software के उदाहरण –

  • Disk Defragmenter
  • System Profilers
  • Virus Scanner
  • Anti virus
  • Disk Checker
  • Disk Cleaner etc.

Application software

Application Software वे Software होते है जो User तथा Computer को जोड़ने का कार्य करते है ! ये Software Computer के लिए बहुत उपयोगी होते है यदि कंप्यूटर में कोई भी Application Software नहीं है तो हम कंप्यूटर पर कोई भी कार्य नहीं कर सकते है एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के बिना कंप्यूटर मात्र एक डिब्बा हैं ! Application Software के अंतर्गत कई Program आते है जो निम्नलिखित हैं !

  • Photoshop
  • Google Chrome
  • Photoshop
  • MS-Office
  • VLC Player
  • UC Browser

सॉफ्टवेयर की आवश्यकता 

दोस्तों जैसा की हम जानते है कि Computer, Hardware और Software का समूह है यदि इसमें से Software को निकाल दिया जाये ! तो Computer एक लोहे के डिब्बे के समान रह जायेगा ! यह डिब्बा उस समय तक कार्य नहीं करेगा ! जब तक कि इसमें Operating System Software load न किया जाये ! इसका अर्थ यह है कि Computer में कुछ भी कार्य करने के लिए Operating System Software का होना जरुरी है ! हमें computer operate  करने के लिए Operating System के आलावा कुछ और सॉफ्टवेयर्स की भी आवश्यकता पड़ती हैं !

उदाहरण के लिए – Google Chrome, Photoshop, MS-WORD, VLC Player, UC Browser इत्यादि ! इसके अतिरिक्त यदि आपका कम्प्यूटर वायरस से संक्रमित हो जाये तो आपको Utility software की आवश्यकता पड़ेगी ! इस तरह आपको कंप्यूटर में अलग -अलग कार्यो के लिए अलग – अलग software की आवश्यकता पड़ेगी ! अब आप समझ गए होगे कि कंप्यूटर को ओपरेट करने के लिए सॉफ्टवेयर की कितनी आवश्यकता होती है !

सॉफ्टवेयर कैसे बनाते हैं – How to Create a Computer Software in Hindi?

दोस्तों इतना सब जानने के बाद ये भी जान लेते है कि ये software कैसे बनता है ? Software बनाना थोडा-सा कठिन कार्य हैं ! क्योंकि इस कार्य को करने के लिए आपके पास Programming Languages की जानकारी होना जरुरी है तभी आप एक software बना सकते हैं ! सॉफ्टवेयर बनाने के लिए कई  प्रोग्रामिंग भाषाओं का विकास किया गया हैं ! जिनके द्वारा आप अलग-अलग जरुरत के लिए software बना सकते हैं ! दोस्तों हम सभी programming language को तो नहीं सीख सकते है, परन्तु शुरुआत करने के लिए आप C, C++, Java, PHP language को सीख कर Software coding कर सकते है !

C Language का इस्तेमाल  systems applications को develop करने के लिए होता है, जिन्हें की दूसरे operating system के साथ integrate करने के लिए किया जाता है जैसे – की Windows, UNIX और Linux, साथ ही embedded software भी  Applications में graphics packages, word processors, spreadsheets, operating system development, database systems, compilers, assemblers, network drivers और interpreters का इस्तेमाल  होता है

C++ language को इस्तेमाल किया जाता है computer programs को create करने के लिए और packaged software को, जैसे की games, office applications, graphics, video editors और operating systems

Java एक General Purpose Programming Language है ! इनको Software और Application Development के लिए इस्तेमाल किया जाता है ! java एक High Level Programming Language है ! Java Script, JSP (Java Server Pages) और java इन सभी के मदद से एक Powerful Web Application बनाया जा सकता है.

PHP Language एक open-source scripting language है जिसे की web pages को create और design करने के लिए किया जाता है , जो  databases के साथ dynamic और Effective work कर सके !

कम्प्यूटॅर सॉफ़्टवेयर से संबंधित कुछ सामान्य सवाल-जवाब

Q. Software कौन बनाते है ?

Ans. – Software को मुख्य रूप से software developer  बनाते हैं। ये सॉफ्टवेयर डिवेलपर जिस कम्पनी में काम करते हैं उसे software product development company कहा जाता है। यहाँ यूज़र के ज़रूरत के हिसाब से software  तैयार किया जाता है।

Q. सॉफ्टवेयर क्या है in Hindi?

Ans. – सॉफ्टवेयर, बहुत सारे प्रोग्राम्स का वह समूह है, जो कम्प्यूटर को किसी कार्य को पूर्ण करने का निर्देश देता हैं, यह यूजर को कम्प्यूटर पर काम करने की क्षमता प्रदान करता हैं ! सॉफ्टवेयर के बिना कम्प्यूटर हार्डवेयर का एक निर्जीव वस्तु है ! Software को हम अपनी आँखों से देख नहीं सकते और न ही हाथों से छू सकते है !

Q. सॉफ्टवेयर के कितने भाग होते हैं?
Ans. – कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के तीन भाग होते हैं.
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software)
  • एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software)
  • प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर (Utility Software)
Q. ऑपरेटिंग सिस्टम कौन कौन से होते हैं?

Ans. – Operating system निम्नलिखित प्रकार के होते है-

  • Windows OS
  • Mac OS
  • Linux
  • UBUNTU
  • Android
Q. कम्प्यूटर सॉफ़्टवेयर कहां मिलते है?

Ans. – कम्प्यूटर सॉफ़्टवेयर आपको Online और Offline दोनों जगह मिल सकते है ! ऑनलाइन में आपको उनकी Official site या कुछ दूसरे डाउनलोड साइट पर मिल जाएँगी। वहीं Offline में आपको कम्प्यूटर की दुकान पर आसानी से कोई भी software मिल जायेगा !

दोस्तों अब आपको समझ आ गया होगा कि computer software क्या है ? software कितने प्रकार के होते है और इन्हें कैसे बनाया जाता है ? यह पोस्ट आपको कैसा लगा और आपने इस पोस्ट से क्या सीखा  ? और अभी भी आपको कोई परेशानी है तो आप कमेंट करके भी पूछ सकते है और इस पोस्ट को अपने दोस्तों को भी शेयर करे ! ताकि उन्हें भी software के बारे में सही जानकारी मिल सके ! धन्यवाद 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *