GPT क्या है ? GPT और MBR में क्या अंतर है ?

Hello, दोस्तों आज की इस पोस्ट हम GPT और MBR के बारे में बात करेंगे ! GPT और MBR क्या होता है और इनमे क्या अंतर है ! दोस्तों जब भी आप नया कंप्यूटर या हार्ड डिस्क खरीदते है ! उसमे आपको hard disk का partition करना होता है ! HDD और SSD के बारे में अपनी previous पोस्ट में बताया था ! कि  आपको कौन सी ड्राइव का चुनाव करना चाहिए ! अगर आपने उस पोस्ट को नहीं पढ़ा है, तो आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके पढ़ सकते है ! इससे आपको हार्डडिस्क खरीदने में आसानी होगी ! तो हम बात कर रहे थे partition के बारे मे जब भी हम नयी hard disk drive  खरीदते है  तो उसमे एक ही partition होता है! 

GPT क्या है?

hard disk partition का अर्थ एक physical hard drive को multiple independent volume मे अलग अलग करने से होता है !  हम hard drive  में partition इसलिए करते है कि अपनी जरुरत के हिसाब से data को अलग – अलग save करके रख सके ! hard drive partition करते समय दो partition style देखने को मिलती है ! जिन्हें MBR और GPT partition style कहते है | जिनके बारे में आज की पोस्ट में बात करेंगे ! तो सबसे पहले हम MBR partition के बारे में समझेंगे |

MBR partition क्या  है ? What is MBR partition in Hindi

MBR का full form  ”Master Boot Record” होता है MBR का उपयोग पुराने समय में आने वाले Computer जिनमे Windows 98 और Windows Xp में होता था ! GPT और MBR दोनों का काम एक समान ही होता है ! दोनों का काम हार्ड डिस्क में कितने partition है और वह कहाँ से शुरू  होते है और कहाँ पर ख़त्म होते  है ? और कौन सा partition bootable है , यह जानकारी operating system  देना है !

इसके आलावा जब भी आप कंप्यूटर को start करते है और आपके कंप्यूटर में अगर GPT और MBR दोनों partition style की हार्ड डिस्क लगी है दोनों में से किसी एक को select करना पड़ेगा ! MBR लगभग 1993 मे DOS के साथ launch किया था ! सभी प्रकार के नए और पुराने operating system को MBR  support करता है ! MBR partition का ज्यादा से ज्यादा size 2 TB हो सकता है ! और इसमें 3 primary partition से ज्यादा नहीं बनाये जा सकते है !

GPT क्या है? What is GPT in HIndi

GPT का full form “GUID Partition Table” होता है, GPT का काम भी MBR की तरह है ! लेकिन इसका प्रयोग नए operating system के लिए किया जाता है ! GPT नया standard है जिसके कारण यह पुराने operating system को support नहीं करता है ! GPT के  partition का ज्यादा से ज्यादा size 10 TB हो सकता है ! और इसमें 128 primary partition बनाये जा सकते है ! इसका मतलब यह है कि अगर आप 2 TB से ज्यादा की हार्डडिस्क का उपयोग करना चाहते है ! तो आपको GPT partition का ही उपयोग होगा ! क्योंकि लोगो का 2 TB हार्डडिस्क से काम नहीं चलता है और उन्हें उससे ज्यादा की हार्ड डिस्क लगाते है ! MBR में कुछ ऐसी कमियों के कारण GPT को लाया गया है ! कह सकते है की MBR को update करके GPT में लाया गया है !

GPT और MBR में क्या अंतर है ?
NO  GPT MBR
01 यह केवल नए operating system को support करता है ! यह सभी प्रकार के operating system को support करता है !
02 GPT की partition limit 10 TB तक है ! MBR  की partition limit 2 TB तक है !
03 इसमें 128 primary partition बनाये जा सकते है ! जबकि MBR में 3 primary partition से ज्यादा नहीं बनाये जा सकते है !
04 GPT में CRC function Available होता है ! MBR में CRC function Available नहीं होता है !
05 GPT partition में BIOS/LEGACY support नहीं करता है ! MBR partition में UEFI support नहीं करता है !

तो दोस्तों यह थी GPT और MBR के बारे में सारी जानकारी इस पोस्ट को पढने के बाद आपको GPT और MBR के विषय में जानकारी मिल गई होगी ! GPT और MBR में क्या अंतर है ? यह भी समझ आ गया होगा ! अब आप अपनी जरुरत के हिसाब से हार्डडिस्क partition क्रिएट कर सकते है ! दोस्तों अगर आपको कुछ समझ न आये तो आप कमेंट करके भी पूछ सकते है ! मै आपकी पूरी हेल्प करूँगा ! अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा हो ! तो अपने दोस्तों को भी share करे !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *